समसामयिकी दिसम्बर:CURRENT AFFAIRS DECEMBER: 1-7

Bookmark and Share

Click on the Link to Download समसामयिकी दिसम्बर:CURRENT AFFAIRS DECEMBER: 1-7 PDF

यूनेस्को ने योग को मानवता की अमूर्त सांस्कृतिक विरासत का दर्जा दिया:-

    संयुक्त राष्ट्र के शैक्षणिक, वैज्ञानिक और सांस्कृतिक संगठन यूनेस्को ने योग को दुनियाभर में प्रतिष्ठित मानवता की अमूर्त सांस्कृतिक धरोहरों की सूची में शामिल कर लिया। यूनेस्को ने कहा है कि योग के दर्शन ने स्वास्थ्य, चिकित्सा, शिक्षा एवं कला जैसे भारतीय समाज के विभिन्न पहलुओं को प्रभावित किया है।

मुख्य बिंदु

  • इथोपिया के अदिस अबाबा में आयोजित यूनेस्को के अंतर सरकारी समिति के 11वें सत्र में इस बात की औपचारिक घोषणा हुई की योग को मानवता की अमूर्त सांस्कृतिक वैश्विक विरासत के तौर पर स्वीकार किया गया है।
  • प्राचीन काल से लेकर अब तक भारत में योग की एक महत्वपूर्ण भूमिका रही है। योग एक ऐसी कला है जिसे कोई भी इंसान सीख ले तो उसके अंदर एक अनोखी ऊर्जा, एक अनोखी शक्ति भर जाती है जिससे उसके मन में एकाग्रता आ जाती है और वह आसानी से अहिंसा, भाईचारा और मानवता के पथ पर चलने को मजबूर हो जाता है।
  • कोई भी इंसान अगर योग करता है तो वह कई तरह की बीमारियों से भी दूर रहता है और मानसिक तौर पर अपने आप को शांत एवं नियंत्रण में रख पता है। इसीलिए आज पूरी दुनिया ने योग का लोहा माना है क्योंकि यह एक ऐसी कला है जो सर्वगुण संपन्न है।
  • यूनेस्को ने सर्वसम्मति के साथ योग को अमूर्त सांस्कृतिक वैश्विक विरासत के रूप में स्वीकार किया। यूनेस्को की बैठक में योग को अमूर्त सांस्कृतिक वैश्विक विरासत घोषित करने के लिए 100 प्रतिशत वोट मिले हैं। मानवता की अमूर्त सांस्कृतिक विरासत की सूची में योग 12वीं भारतीय विरासत है।
  • यूनेस्को के मुताबिक अमूर्त सांस्कृतिक धरोहरों के दायरे में मौखिक परंपराओं और अभिव्यक्तियों, प्रदर्शन कला, सामाजिक रीति-रिवाज, उत्सव, ज्ञान आदि को रखा जाता है। चूंकि योग को खेल की विधा माना जाता था, इसलिए इसे इस लिस्ट में शामिल होने का मौका नहीं मिला था।

विश्व एड्स दिवस

  • 1 दिसंबर 2016 को विश्व एड्स दिवस पूरे विश्वभर में मनाया गया। विश्व एड्स दिवस पर इस वर्ष का विषय था: “हैंड्स अप फॉर # एचआईवी प्रिवेंशन”. यह दिन इस जानलेवा रोग के बारे में जागरूकता फैलाने का अवसर प्रदान करता है और एचआईवी तथा एड्स की रोकथाम, उपचार और देखभाल को बढ़ावा देता है।
  • इस दिवस को मनाने का मकसद है सरकारों एवं स्वास्थ्य अधिकारियों, स्वयं सेवी संगठनों एवं लोगों को एड्स से बचाव और उसके इलाज को संबोधित करने की आवश्यकता को रेखांकित करना है।
  • विश्व एड्स दिवस के हिस्से के तौर पर, संयुक्त राष्ट्र बाल कोष (यूनिसेफ) ने यह कहते हुए कि 15 वर्ष के बच्चों के बीच संक्रमण को रोकना अधिक जरूरी है अधिक निवेश एवं बच्चों तक उपचार की पहुंच बढ़ाने पर जोर दिया।
  • एक अनुमान के मुताविक 1981 से 2007 तक करीब 25 लाख लोगों की मृृत्यु एच आई बी सक्रमण के कारण हो गई। 2007 में लगभग दो लाख लोग इस महामारी से संक्रमित हुऐ।
  • चुकि युवा ही नहीं हर उम्र का व्ययक्ति इस बीमारी से पीडित होने लगा इस लिए सभी उम्र और वर्ग के लोगोंं को जागरूक करने के लिए विशेष प्रोग्राम आयोजित किये गये जिसमें हर वर्ष की एक अलग थीम बनाई गयी 1988 में विश्वन एड्स दिवस अभियान की थीम का नाम “संचार” था। 2007 के बाद से विश्वो एड्स दिवस को व्हाीइट हाऊस द्वारा एड्स रिवन (AIDS ribbon) का एक प्रतीक देकर शुरू किया गया।

टीमइंडस का चन्द्रमा पर पहला निजी अंतरिक्ष यान :

  • भारत की एक प्राइवेट स्पेस टेक्नॉलजी कंपनी टीमइंडस ,इसरो के साथ मिलकर अंतरिक्ष में एक बड़ा कदम रखने जा रही है। टीमइंडस ने भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) के साथ मिलकर चांद पर स्पेसक्राफ्ट उतारने का कॉन्ट्रेक्ट साइन किया है। इसके साथ ही चांद पर अपना स्पेसक्राफ्ट भेजने वाली पहली निजी कंपनी बन जाएगी।
  • यह प्रॉजेक्ट गूगल लूनर एक्सप्राइज की वैश्विक चुनौती का हिस्सा है जिसमें टीमइंडस इकलौती भारतीय कंपनी है। लूनर एक्सप्राइज के तहत चांद की सतह पर अंतरिक्ष यान उतारने, 500 मीटर तक चलाने और फोटो, विडियो पृथ्वी पर वापस भेजने के लिए लगभग 204 करोड़ रुपए की फंडिंग मिलेगी।
  • टीमइंडस इस प्रॉजेक्ट पर 2011 से काम कर रहे हैं। वह पोलर सैटेलाइट लॉन्ट वीइकल (PSLV) के जरिए चांद पर अपना अंतरिक्ष यान दिसंबर 2017 में भेजेंगे।
  • अंतरराष्ट्रीय दिव्यांग व्यक्ति दिवस

  • 03 दिसंबर 2016 को विश्वभर में अंतरराष्ट्रीय दिव्यांग व्यक्ति दिवस मनाया गया। इस दिवस का विषय था – इच्छुक भविष्य के लिए 17 लक्ष्यों की प्राप्ति। वर्ष 2016 में इसका लक्ष्य दिव्यांग लोगों के अधिकारों की पूर्ति करना है। इस दिवस का उद्देश्य दिव्यांग लोगों के बेहतर भविष्य के लिए प्रयासरत रहना भी है।
  • वर्ष 2016 का अंतरराष्ट्रीय दिव्यांग व्यक्ति दिवस सीआरपीडी एडॉप्शन दिवस की 10वीं वर्षगांठ के साथ ही मनाया जा रहा है। सीआरपीडी संयुक्त राष्ट्र द्वारा लागू की गयी सबसे अधिक देशों द्वारा स्वीकृत संधि है।

पृष्ठभूमि

  • हर साल 3 दिसंबर को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर दिव्यांग व्यक्तियों का अंतरराष्ट्रीय दिवस मनाने की शुरुआत हुई थी और 1992 से संयुक्त राष्ट्र के द्वारा इसे अंतरराष्ट्रीय रीति-रिवीज़ के रुप में प्रचारित किया जा रहा है।
  • दिव्यांगों के प्रति सामाजिक कलंक को मिटाने और उनके जीवन के तौर-तरीकों को और बेहतर बनाने के लिये उनके वास्तविक जीवन में बहुत सारी सहायता को लागू करने के द्वारा तथा उनको बढ़ावा देने के लिये साथ ही दिव्यांग लोगों के बारे में जागरुकता को बढ़ावा देने के लिये इसे सालाना मनाने के लिये इस दिन को खास महत्व दिया जाता है। 1992 से, इसे पूरी दुनिया में ढ़ेर सारी सफलता के साथ इस वर्ष तक हर साल से लगातार मनाया जा रहा है।
  • समाज में उनके आत्मसम्मान, सेहत और अधिकारों को सुधारने के लिये और उनकी सहायता के लिये एक साथ होने के साथ ही लोगों की विकलांगता के मुद्दे की ओर पूरे विश्वभर की समझ को सुधारने के लिये इस दिन के उत्सव का उद्देश्य बहुत बड़ा है।
  • वर्ष 1976 में संयुक्त राष्ट्र आम सभा के द्वारा “दिव्यांगजनों के अंतरराष्ट्रीय वर्ष” के रुप में वर्ष 1981 को घोषित किया गया था। अंतरराष्ट्रीय, राष्ट्रीय और क्षेत्रीय स्तर पर विकलांगजनों के लिये पुनरुद्धार, रोकथाम, प्रचार और बराबरी के मौकों पर जोर देने के लिये योजना बनायी गयी थी।
  • सरकारी और दूसरे संगठनों के लिये निर्धारित समय-सीमा प्रस्ताव के लिये संयुक्त राष्ट्र आम सभा के द्वारा “दिव्यांग व्यक्तियों के संयुक्त राष्ट्र दशक” के रुप में वर्ष 1983 से 1992 को घोषित किया गया था जिससे वो सभी अनुशंसित क्रियाकलापों को ठीक ढंग से लागू कर सकें।

भारत-क़तर सम्बन्ध:

  • भारत और कतर ने 03 दिसम्बर 2016 को वीजा, साइबर स्पेस और निवेश समेत पांच समझौतों पर हस्ताक्षर किए। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनके कतर समकक्ष शेख अब्दुल्ला बिन नासिर बिन खलीफा अल थानी के नेतृत्व में प्रतिनिधिमंडल वार्ता के बाद दोनों देशों के बीच ये समझौते हुए।
  • इस दौरान दोनों नेताओं ने ऊर्जा, व्यापार व सुरक्षा सहित विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की। पीएम मोदी ने कहा कि भारत कतर की हाइड्रोकार्बन परियोजनाओं में निवेश करने का इच्छुक है। राष्ट्रीय बंदरगाह प्रबंधन के क्षेत्र में सहयोग को प्रोत्साहित करने के लिए भी भारत और कतर के बीच एमओयू पर दस्तखत हुए।
  • रक्षा एवं सुरक्षा, विशेषकर साइबर सुरक्षा में सहयोग बढ़ाने व मनीलॉन्ड्रिंग और आतंकवाद को फंडिंग पर रोक लगाने के लिए संयुक्त कार्रवाई पर सहमति जताई गई ।
  • विशेष व आधिकारिक पासपोर्ट धारकों को वीजा छूट के साथ साथ साइबर अपराधों से निपटने के लिए तकनीकी सहयोग को लेकर समझौता किया गया। व्यापारियों व पर्यटकों को ई वीजा प्रदान करने के लिए समझौते पर बातचीत के बारे में आशय पत्र पर हस्ताक्षर किए गए।
  • फीफा वर्ल्ड कप 2022 की मेजबानी कतर करेगा, जिसके लिए भारत वहां की पुलिस को प्रशिक्षित करेगी।

क़तर से सम्बन्ध अहम

    भारत के कतर के साथ घनिष्ठ और मित्रवत संबंध हैं, जो आपसी लाभप्रद व्यावसायिक आदान-प्रदान और दोनों देशों के लागों के बीच व्यापक संपर्को पर आधारित हैं। खाड़ी क्षेत्र में कतर भारत का न सिर्फ अहम व्यापारिक हिस्सेदार है, बल्कि वह सबसे ज्यादा एलएनजी की आपूर्ति भी करता है। 2015-16 में आयात कुल एलएनजी में कतर का हिस्सा 66 फीसदी रहा। इसके अलावा कतर में करीब छह लाख 30 हजार से ज्यादा भारतीय काम करते हैं। कतर के विकास में भारतीयों अहम भूमिका अदा करते हैं।

रक्त पीएच सेंसर

  • भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी) ने किसी भी सॉल्यूशन (विलयन) का पीएच जानने के लिए एक छोटा सा उपकरण विकसित किया है, जोकि प्रारंभिक अध्ययन में रक्त के पीएच को मापने के लिए इसकी उपयोगिता दिखा रहा है।
  • पोटेंशियोमेट्रिकली रक्त का पीएच मापने की परंपरागत विधि के स्थान पर यह डिवाइस प्रतिबाधा को मापने के द्वारा काम करता है। शारीरिक पीएच रेंज में डिवाइस में संतोषजनक पीएच संवेदनशीलता पायी गयी है।
  • पारंपरिक धमनी रक्त नमूना लेने के उपकरणों जोकि तीन इलेक्ट्रोड का उपयोग करने के कारण काफी भारी होते हैं तथा काफी समय खर्च कराते हैं के विपरीत यह लघु उपकरण पीएच माप के लिए शिरापरक रक्त नमूने पर निर्भर करता है।

पीएच:

  • पीएच या pH, किसी विलयन की अम्लता या क्षारकता का एक माप है। इसे द्रवीभूत हाइड्रोजन आयनों (H+) की गतिविधि के सह-लघुगणक (कॉलॉगरिदम) के रूप में परिभाषित किया जाता है।
  • हाइड्रोजन आयन के गतिविधि गुणांक को प्रयोगात्मक रूप से नहीं मापा जा सकता है, इसलिए वे सैद्धांतिक गणना पर आधारित होते हैं। pH स्केल, कोई सुनिश्चित स्केल नहीं है; इसका संबंध मानक विलयन के एक सेट (समुच्चय) के साथ होता है जिसके pH का आकलन अंतर्राष्ट्रीय संविदा के द्वारा किया जाता है।
  • pH की अवधारणा को सबसे पहले 1909 में कार्ल्सबर्ग लैबॉरेट्री के डेनिश रसायनशास्त्री, सॉरेन पेडर लॉरिट्ज़ सॉरेनसेन ने प्रस्तुत किया था। शुद्ध जल को तटस्थ (न्यूट्रल) माना जाता है। 25 °से (77 °फ़ै) पर शुद्ध जल का pH, 7.0 के आस-पास होता है।
  • 7 से कम pH वाले सॉलूशन को अम्लीय कहा जाता है और 7 से अधिक pH वाले सॉल्यूशन को क्षारकीय या क्षारीय कहा जाता है। चिकित्सा शास्त्र, जीव विज्ञान, रसायन शास्त्र, खाद्य विज्ञान, पर्यावरण विज्ञान, समुद्र विज्ञान और कई अन्य अनुप्रयोगों में pH के मापन का बहुत महत्व है।

‘हार्ट ऑफ एशिया’ सम्मेलन के समापन पर अमृतसर घोषणापत्र जारी

  • अमतसर में दो दिन चले हॉर्ट ऑफ एशिया सम्मेलन का समापन हो गया। केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने अमृतसर डिक्लेरेशन की घोषणा करते हुए कहा कि इस कांफ्रेंस में आतंकवाद और अलगाववाद मुख्य मुद्दा रहा। इस कांफ्रेंस में शामिल हुए 45 देशों ने अमृतसर डिक्लेरेशन को स्वीकार करते हुए एक साथ मिलकर आतंकवाद के खिलाफ लड़ने और अफगानिस्तान के विकास में पूर्ण सहयोग देने की घोषणा की।
  • कांफ्रेंस में अफगानिस्तान से आतंकवाद मिटाने, अफगानिस्तान से इस रीजन के देशों की कनेक्टिविटी बढ़ाने और अफगानिस्तान के विकास में सहयोग करने के 3 मुद्दे मुख्य रूप से रखे गए। वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि कि घोषणापत्र आतंकवाद को शांति एवं स्थिरता के लिए सबसे बड़ा खतरा मानता है। यह आतंकवाद के सभी रूपों और इसके सहयोग, वित्तपोषण, पनाहगाहों को फौरन खत्म करने की अपील करता है।
  • भारतीय प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व कर रहे जेटली ने कहा, पहली बार किसी हार्ट ऑफ एशिया घोषणापत्र में अफगानिस्तान और क्षेत्र में अलकायदा, दाएश, एलईटी तथा जेईएम जैसे आतंकी संगठनों के द्वारा की गई हिंसा पर चिंता जाहिर की गई। हालांकि, एचओए के इस्लामाबाद घोषणापत्र में अलकायदा और दाएश का जिक्र किया गया था।
  • आतंकी संगठनों का मुकाबला करने के लिए समन्वित सहयोग की अपील करने के अलावा घोषणापत्र में अंतरराष्ट्रीय आतंकवाद पर काम्प्रीहेंसिव कंवेंशन को जल्द अंतिम रूप देने की मांग की गई। इसने क्षेत्रीय आतंक रोधी ढांचा के मसौदा पर चर्चा के लिए विशेषज्ञों की शीघ्र बैठक किए जाने का समर्थन किया ताकि इसे जल्द अंतिम रूप दिया जा सके।
  • इस साल ‘हार्ट ऑफ एशिया – इस्तांबुल प्रोसेस’ का विषय ”चुनौतियों से निपटना, समृद्धि हासिल करना’ है। हार्ट ऑफ एशिया का गठन 2011 में अफगानिस्तान और उसके पड़ोसी देशों के बीच रक्षा, राजनैतिक और आर्थिक सहयोग बढ़ाने के लिए किया गया है।
  • ‘हार्ट ऑफ एशिया – इस्तांबूल प्रक्रिया 2011 में शुरू हुई और इसमें शामिल होने वाले देश हैं – पाकिस्तान, अफगानिस्तान, अज़रबैजान, चीन, भारत, ईरान, कजाकिस्तान, किर्गिस्तान, रूस, सऊदी अरब, ताजिकिस्तान, तुर्की, तुर्कमेनिस्तान और संयुक्त अरब अमीरात।

मर्कोसुर ने वेनेजुएला की सदस्यता रद्द की:

  • दक्षिण अमेरिकी आर्थिक गुट मर्कोसुर ने गुट के लोकतांत्रिक सिद्धांतों का उल्लंघन करने और अपने बुनियादी मानकों को पूरा करने में नाकाम रहने के कारण वेनेजुएला को निलंबित कर दिया है। चार संस्थापक सदस्य देशों (अर्जेंटीना, ब्राजील, उरुग्वे और पराग्वे) के विदेश मंत्रियों द्वारा वेनेजुएला की सदस्यता को रद्द कर दिया गया था।

वेनेजुएला को क्यों निलंबित कर दिया गया?

    वेनेजुएला को इसलिए अवरुद्ध किया गया क्योंकि वर्ष 2012 में समूह में शामिल होने के बाद यह अपनी प्रतिबद्धताओं का पालन करने में विफल रहा है। तथा इसने गुट की सदस्यता के लिए आवश्यक मानकों और नियमों को पूरा करने के लिए दी गयी समयसीमा 1 दिसंबर 2016 का भी उल्लंघन किया है।
    गुट ने अर्थव्यवस्था के खराब प्रदर्शन के कारण आर्थिक समूह के लिए वेनेजुएला को एक बोझ के रूप में माना है। यह छिन्न-भिन्न आर्थिक प्रणाली (दुनिया की सबसे ऊंची मुद्रास्फीति और ढहती मुद्रा), भ्रष्टाचार की समस्या से पीड़ित हैं और नागरिक अशांति के करीब है। 2015 के बाद से, वेनेजुएला और उसके मर्कोसुर भागीदारों के बीच तनाव और बढ़ गया था।

मर्कोसुर:

  • मर्कोसुर या मर्कोसुल दक्षिण अमेरिकी देशों का एक क्षेत्रीय व्यापार संगठन है जिसके सदस्य अर्जेंटीना, ब्राजील, उरुग्वे और पैराग्वे हैं। संगठन की स्थापना सन 1991 में एसन्शियन संधि के द्वारा की गयी थी, जिसे 1994 में संशोधित कर ऑरो प्रेटो संधि का रूप दिया गया।
  • इस संगठन का उद्देश्य सदस्य देशों के बीच मुक्त व्यापार के अतिरिक्त लोगों, माल और मुद्रा का मुक्त प्रवाह है। संगठन का मुख्यालय उरुग्वे की राजधानी मोंटेवीडियो में है और इसकी आधिकरिक भाषायें पुर्तगाली, स्पेनी और गुआरानी हैं।
  • वर्तमान में चिली, बोलीविया, कोलम्बिया, ईक्वाडोर और पेरू को सहयोगी सदस्य का दर्जा दिया गया है।

रिसोर्ससैट -2ए रिमोट सेंसिंग उपग्रह का सफलतापूर्वक प्रक्षेपण

  • अपनी 38वीं उड़ान (पीएसएलवी-सी36) में, इसरो के ध्रुवीय उपग्रह प्रक्षेपण यान ने सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र शार, श्रीहरिकोटा से 1, 235 किलो भार के रिसोर्ससैट -2ए उपग्रह का सफलतापूर्वक प्रेक्षपण किया। यह पीएसएलवी का लगातार 37वां सफल मिशन है।
  • रिसोर्ससैट के तीन पेलोड हैं। इनमें दो लीनियर इमेर्जिंनग सेल्फ स्कैनर कैमरा हैं। एक कैमरा उच्च रिजॉलूशन वाला है जो दृश्य तथा निकट अवरक्त क्षेत्र स्पेक्ट्रम में तस्वीरें लेने के काम आयेगा जबकि दूसरा कैमरा मध्यम रिजॉलूशन वाला है और शॉर्ट वेव इंफ्रारेड बैंड में तस्वीरें लेगा।
  • तीसरा पेलोड एडवांस वाइड फिल्ड सेंसर कैमरा है जो दूश्य एवं निकट अवरक्त क्षेत्र में तीर बैंडों में और शॉर्टवेव इंफ्रारेड में एक बैंड में काम करेगा। इसमें दो रिकॉर्डर हैं जिनकी क्षमता दो-दो सौ गीगाबाइट डाटा स्टोर करने की है। इस उपग्रह की पूर्वानुमानित आयु पाँच साल है।
  • 2003 में रिसोर्ससेट-1 लॉन्च किया गया था। वहीं 2011 में रिसोर्ससेट-2 लॉन्च किया गया था। अंतरिक्ष कार्यक्रम में भारत की यह बड़ी सफलता है। 1963 में केरल स्थित थुम्बा इक्वेटोरियल रॉकेट लॉन्चिंग से पहला साउंडिंग रॉकेट छोड़ा गया था। इसके बाद से इसरो अबतक अंतरिक्ष कार्यक्रम में सफलता के झंडे गाड़ चुका है। 2014 में भारतीय मंगलयान का पहले ही कोशिश में मंगल की कक्षा में पहुंच जाना इसरो की सबसे बड़ी उपलब्धि रही है।

रिसोर्ससैट -2ए के लाभ

  • यह रिसोर्ससैट-1 और 2 की कड़ी का सैटलाइट है। यह सैटलाइट भारत के जमीनी संसाधनों के बारे में जानकारी देगा। मसलन यह भारत की वन संपदा और जल संसाधनों के बारे में जानकारी देगा। इससे यह जानने में भी मदद मिल सकती है कि देश के किन इलाकों में कौन से मिनरल हैं।
  • रिसोर्ससैट -2ए द्वारा भेजा गया डेटा फसल क्षेत्र और फसल उत्पादन अनुमान, सूखे की निगरानी, मिट्टी मानचित्रण, फसल प्रणाली विश्लेषण और कृषि परामर्श से संबंधित कृषि अनुप्रयोगों में उपयोगी हो जाएगा।

डिजिटल भुगतान प्रणाली पर मुख्यमंत्रियों की समिति गठित:

  • नीति आयोग की ओर से डिजिटल भुगतान प्रणाली देश में पारदर्शिता, वित्तीय समावेश और स्वस्थ आर्थिक तंत्र को मजबूत करने तथा आम आदमी के स्तर पर डिजिटल भुगतान व्यवस्था को बढ़ावा देने के उद्देश्य से उठाया गया है।
  • समिति के सदस्यों में ओड़िशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक, मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, सिक्किम के मुख्यमंत्री पवन कुमार चामलिंग, पुड्डुचेरी के मुख्यमंत्री वी. नारायण सामी तथा महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेन्द्र फड़णवीस शामिल हैं।
  • नीति आयोग के उपाध्यक्ष अरविंद पनगढ़िया को भी समिति का सदस्य बनाया गया है जबकि मुख्य कार्यकारी अधिकारी अमिताभ कांत इसके सदस्य सचिव होंगे। इनके अलावा समिति में विभिन्न क्षेत्रों के पांच विशेषज्ञों को विशेष आमंत्रित सदस्य के रूप में रखा गया है।

सिनेमाहॉल में फिल्म से पहले राष्ट्रगान बजाना अनिवार्य: सुप्रीम कोर्ट

  • सुप्रीम कोर्ट ने राष्ट्रीय गान, यानी ‘जन गण मन’ से जुड़े एक अहम आदेश में 30 नवम्बर 2016 को कहा कि देशभर के सभी सिनेमाघरों में फिल्म शुरू होने से पहले राष्ट्रीय गान ज़रूर बजेगा। सुप्रीम कोर्ट ने यह भी कहा कि राष्ट्रीय गान बजते समय सिनेमाहॉल के पर्दे पर राष्ट्रीय ध्वज दिखाया जाना भी अनिवार्य होगा, तथा सिनेमाघर में मौजूद सभी लोगों को राष्ट्रीय गान के सम्मान में खड़ा होना होगा।
  • सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि राष्ट्रीय गान राष्ट्रीय पहचान, राष्ट्रीय एकता और संवैधानिक देशभक्ति से जुड़ा है। कोर्ट के आदेश के मुताबिक, ध्यान रखा जाए कि किसी भी व्यावसायिक हित में राष्ट्रीय गान का इस्तेमाल नहीं किया जा सकता। इसके अलावा किसी भी तरह की गतिविधि में ड्रामा क्रिएट करने के लिए भी राष्ट्रीय गान का इस्तेमाल नहीं होगा, तथा राष्ट्रीय गान को वैरायटी सॉन्ग के तौर पर भी नहीं गाया जाएगा।
  • दरअसल, श्याम नारायण चौकसे की याचिका में कहा गया था कि किसी भी व्यावसायिक गतिविधि के लिए राष्ट्रीय गान के चलन पर रोक लगाई जानी चाहिए, और एंटरटेनमेंट शो में ड्रामा क्रिएट करने के लिए राष्ट्रीय गान को इस्तेमाल न किया जाए। याचिका में यह भी कहा गया था कि एक बार शुरू होने पर राष्ट्रीय गान को अंत तक गाया जाना चाहिए, और बीच में बंद नहीं किया जाना चाहिए।

वाटर वेव लेजर:

  • वैज्ञानिकों ने दुनिया का पहला वाटर वेव लेजर विकसित करने में सफलता हासिल की है। यह लेजर प्रकाश और पानी के माध्यम से लेजर किरणें छोड़ता है। कोशिका विज्ञान को समझने और नई दवाओं के प्रयोग में यह सहायक हो सकता है।
  • यह लेजर टेक्नियन इजरायल इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी के शोधकर्ताओं ने विकसित किया है। यह नैनो स्तर पर होने वाले शोध में वैज्ञानिकों के लिए नए रास्ते खोलेगा। नैनो तकनीक में मनुष्य के बाल से भी छोटे पैमाने पर शोध को अंजाम दिया जाता है।
  • वाटर वेव लेजर की यह तकनीक दो क्षेत्रों नॉन लीनियर ऑप्टिक और वाटर वेव को जोड़ने वाली है। अब से पहले इन दोनों क्षेत्रों को पूरी तरह अलग माना जाता रहा है। शोधकर्ता ताल कारमन ने कहा कि फ्रीक्वेंसी में अंतर के कारण अब तक पानी और प्रकाश को मिलाकर लेजर का प्रयोग नहीं किया गया है। फ्रीक्वेंसी का अंतर लेजर विकिरण के लिए जरूरी ऊर्जा उत्पन्न नहीं होने देता। वैज्ञानिकों द्वारा विकसित खास उपकरण फ्रीक्वेंसी के इस अंतर के कारण ऊर्जा में होने वाली कमी को संतुलित करता है।

वित्तीय साक्षरता अभियान की शुरुआत :

  • मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावडेकर ने 1 दिसम्बर 2016 को देश के 160 से ज्यादा केंद्रीय शिक्षण संस्थानों को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये संबोधित किया। इस मौके पर उन्होंनेकर ने ‘वित्तीय साक्षरता अभियान’ की शुरुआत करते हुए पावर प्वाइंट प्रस्तुतीकरण द्वारा मोबाइल के माध्यम से ज्यादा से ज्यादा लेनदेन की विस्तृत जानकारी उपलब्ध कराई गई।
  • तकनीक की खूबियों का जिक्र करते हुए जावडेकर ने कहा कि वर्तमान युग तकनीक का है जिसमें आज हम एक साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये जुड़े हुए हैं।
  • एशिया के सबसे लम्बे साईकिल राजमार्ग का उद्घाटन:

  • उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने उत्तर प्रदेश में आगरा और इटावा के मध्य, भारत के पहले और एशिया के सबसे लम्बे साइकिल राजमार्ग (bicycle highway) का उद्घाटन किया।
  • इसके साथ ही भारत भर के एवं पांच देशों के 90 साईकिल सवारों की एक रैली का उद्घाटन इटावा में लायन सफारी से किया गया।
  • ओपेक देश कच्चा तेल उत्पादन में कटौती पर राजी:

      तेल निर्यातक देशों के संगठन ओपेक के सदस्य देशों ने उत्पादन में कटौती पर विचार-विमर्श किया और कटौती पर राजी हुए। इससे प्रमुख बाजारों में तेल कीमतों मेें तेजी देखने को मिली। ओपेक आठ साल में पहली बार उत्पादन में कटौती पर विचार कर रहा है और उस पर लगभग सहमति बन गयी है।

    मुख्य बिंदु

    • 2008 के बाद पहली बार ओपेक कच्चे तेल के उत्पादन में कटौती करेगा। ओपेक में क्रूड उत्पादन में 12 लाख बैरल प्रतिदिन की कटौती पर सहमति बनी है। ओपेक देशों के लिए कच्चे तेल उत्पादन की नयी सीमा करीब 3.25 लाख करोड़ बैरल तय की गयी है।
    • सऊदी अरब के लिए क्रूड उत्पादन की सीमा कम कर एक करोड़ बैरल कर दी गयी है, वहीं ईरान के लिए इसे 37 लाख 97 हजार बैरल किया गया है। जबकि इंडोनेशिया ओपेक से बाहर हो गया है। इस कारण उसके हिस्से का कोटा दूसरे देशों में बांटा गया है।

    डॉ कर्ण सिंह ऑरोविले फाउंडेशन के अध्यक्ष के रूप में पुनः नामित

    • प्रख्यात विद्वान, राज्यसभा सदस्य और भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के वरिष्ठ नेता डॉ. कर्ण सिंह को मानव संसाधन विकास मंत्रालय के अंतर्गत आने वाले स्वायत्त निकाय ऑरोविले फाउंडेशन के संचालक मंडल के अध्यक्ष के रूप में फिर से नामित किया गया है। डॉ सिंह को चार साल के कार्यकाल के लिए फिर से नामित किया गया है।
    • ओरोविल दक्षिण भारत स्थित पुडुचेरी के पास तमिलनाडु राज्य के विलुप्पुरम जिले में एक “प्रायोगिक” नगरी है। इसकी स्थापना 1968 में मीरा रिचर्ड (भारत में निश्चित तौर पर बस जाने के बाद उन्हें “मां” कहा जाने लगा) ने की तथा इसकी रूपरेखा वास्तुकार रोजर ऐंगर ने तैयार की थी।
    • ओरोविल भारत के संविधान के एक अधिनियम के माध्यम से ओरोविल फाउन्डेशन द्वारा शासित है। अतः ओरोविल फाउंडेशन के सचिव किसी व्यक्ति विशेष की ओरोविल सदस्यता की पुष्टि या उसे खारिज करने के प्रभारी हैं।

    सुप्रीम कोर्ट ने दिल्ली्-एनसीआर के लिए प्रदूषण कोड को मंजूरी दी

    • सुप्रीम कोर्ट ने दिल्लीा और एनसीआर में बढ़ते प्रदूषण से निपटने के लिए एक प्रदूषण कोड को मंजूरी दे दी। कोर्ट ने केंद्र से प्रदूषण कोड अधिसूचित करने को कहा है। अब केंद्र सरकार इस ग्रेड प्रणाली को लागू करने के लिए अधिसूचना जारी करेगी और इपीसीए- एनवायमेंट पॉल्यूरशन कंट्रोल अथॉरिटी इस बात की निगरानी करेगी कि दिल्ली सरकार, एनडीएमसी, एमसीडी और दिल्ली ट्रैफिक पुलिस ने इसे कैसे लागू किया।
    • इस प्रदूषण कोड के तहत दिल्लील एनसीआर में प्रदूषण की चार कैटेगरी – खराब, बहुत खराब, गंभीर और काफी गंभीर तय की गई हैं। ग्रेगेड सिस्टम को चार भागों में बांटा गया है:
    • Severe or Emergency: इस नए ग्रेडिंग सिस्ट म के अनुसार अगर जब हवा में पीएम 2.5 का स्तेर 300 माइक्रोग्राम प्रति क्यू:बिक मीटर या पीएम 10 की मात्रा अगर 500 माइक्रोग्राम प्रति क्यू बिक मीटर को पार कर जाए और ये स्थिति 48 घंटे या उससे ज्याकदा के लिए बनी रहे।
    • Severe: इस कैटेगरी के तहत PM 2.5 की मात्रा 250 माइक्रोग्राम प्रति क्यूरबिक मीटर से ऊपर या PM10 अगर 430 माइक्रोग्राम प्रति क्यूउबिक मीटर से ऊपर हो।
    • Very poor – जब पीएम 2.5 121-250 के बीच में रहे और पीएम 10 351-430 के बीच में हो।
    • Moderate to poor category: अगर पीएम 2.5 का स्त र 91-120 के बीच हो या पीएम 10 का स्तमर 251-350 के बीच हो।

    भारत की पहली महिला राजनीतिक पार्टी का गठन

    • विभिन्न कार्यक्षेत्र से संबंध रखने वाली महिलाओं ने एकजुट होकर समाज में एकता का संदेश देने के लिए एक राजनीतिक पार्टी का गठन किया है। ऑल इंडिया वूमन युनाइटेड पार्टी (एआइडब्ल्यूयूपी) का गठन महिलाओं की राजनीतिक, कानूनी और सामाजिक अधिकारों की लड़ाई लड़ने के लिए किया गया है।
    • यह पार्टी अपनी तरह की पहली पार्टी है जिसकी सभी सदस्य महिला हैं। पार्टी अध्यक्ष नसीम बानो खान ने बताया कि उनकी पार्टी समानता के सिद्धातों पर भारत में एक लोकतात्रिक, धर्मनिरपेक्ष और समाजवादी राज्य के निर्माण के लिए समर्पित है और महिलाओं के लिए सम्मान के लिए प्रयासरत रहेगी। अखिल-महिलाओं की पार्टी होने के नाते, हम महिलाओं के उत्थान और सशक्तिकरण के लिए प्रतिबद्ध हैं।
    • वे आगामी पंजाब और उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनावों और अन्य सभी राज्यों में चुनाव लड़ने जा रहे हैं। पंजाब के चुनाव के लिए उम्मीदवारों के नाम को बहुत जल्द ही अंतिम रूप दिया जाएगा और वे बहुत जल्द ही मीडिया के साथ इस सूची को साझा करने जा रहे हैं।

    बिजली का उपयोग करते हुए परमाणु ईंधन के उत्पादन हेतु सस्ता तरीका विकसित

    • रूस के वैज्ञानिकों ने बिजली का उपयोग करते हुए उच्च गुणवत्ता वाले परमाणु ईंधन के उत्पादन के लिए एक नया अनूठा, कम लागत वाला तरीका विकसित किया है।
    • यह एक ऐसा नया तरीका है जोकि पाउडर धातु का आधार बनाता है और इसमें दवाब में इलेक्ट्रिक पल्स सिंटरिंग शामिल हैं।

    सिमसेपे प्ले टफार्म

    • यस बैंक ने डिस्ट्रिक्ट कोऑपरेटिव बैंक देहरादून के साथ मिलकर सिमसेपे प्ले टफार्म लॉन्च किया है। इसमें इंटरनेट कनेक्श्न की जरूरत नहीं होगी बल्कि यह एसएमएस पर आधारित होगा।
    • यह ताईसिस टेक्नो्लॉजी की सिम स्लीोव टेक्नोमलॉजी पर बेस्डक है। इस तकनीक का उपयोग चीन और केन्या जैसे देशों में पहले से ही किया जा रहा है। इस सेवा में आपके खाते में रजिस्टलर्ड नंबर से कॉल या मैसेज करने होंगे। इसके लिए बैंक आपको प्रत्येाक ट्रांजैक्श न के लिए अलग-अलग कोड प्रोवाइड कराएगा। इसी आधार पर आप ट्रांजैक्शपन कर सकते हैं।

    ‘कोंकण 16’

    • भारतीय नौसेना और रॉयल नेवी के बीच वार्षिक द्विपक्षीय समुद्री अभ्यास ‘कोंकण 16’ का 2016 संस्करण 05 से 16 दिसम्बर 2016 तक मुंबई और गोवा में किया जाएगा। इस अभ्यास का नाम भारत के पश्चिमी तटीय क्षेत्र के नाम पर रखा गया है। यह 2004 में स्थापित किया गया था।
    • यह अभ्यास मुंबई और गोवा में दो चरणों में आयोजित किया जाएगा। पहला चरण (दिसम्बर 05 से 09) मुंबई में आयोजित किया जाएगा, जिसमें दोनों नौसेनाएं मिलकर कमान योजना अभ्याास करेंगी। दूसरा चरण (दिसम्बर 12 – 16) गोवा में आयोजित किया जाएगा, जो एक जीवंत अभ्याीस होगा, जिसमें मरीन कमांडो (मार्कोस) और रॉयल मरीन के बीच बातचीत होगी।

    ‘लांचपैड’

    • अमेज़न ने अपने वैश्विक स्टार्टअप प्रोग्राम ‘लांचपैड’ को भारत में शुरू किया। इस ऑनलाइन पोर्टल की विशेषता, इस पर विभिन्न स्टार्टअप्स के 400 उत्पादों का मौजूद होना है जिसमें 25 भारतीय स्टार्टअप भी हैं।
    • इस कार्यक्रम से भारतीय स्टार्टअप को अपने उत्पादों को विदेशों में बेचने में मदद मिलेगी। 2015 में शुरू हुआ, अमेज़न लांचपैड अब सात क्षेत्रों में उपलब्ध है।
    • अमेज़न ने भारत में ‘लांचपैड’ का शुभारम्भ औद्योगिक निति एवं संवर्धन विभाग के स्टार्ट अप इंडिया पहल, नैसकॉम और इंडियन एंजेल नेटवर्क के साथ मिलकर किया है।

    संजय गांधी राष्ट्रीय उद्यान के इको-सेंसिटिव जोन पर अंतिम अधिसूचना जारी

    • पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्रालय (एमओईएफएंडसीसी) ने 5 दिसम्बर 2016 को संजय गांधी राष्ट्रीय उद्यान (SGNP) के आसपास के 4 किलोमीटर के क्षेत्र को पर्यावरण के प्रति संवेदनशील क्षेत्र (ESZ) घोषित कर दिया है।
    • शहर की सीमा के भीतर स्थित जंगल के आसपास के क्षेत्र को इको-सेंसिटिव जोन घोषित करने के पीछे यह उद्देश्य है कि राष्ट्रीय पार्क के संरक्षण के लिए एक बफर क्षेत्र बनाया जा सके।

    आरबीआई ने मौद्रिक नीति जारी की

    • भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) के गवर्नर उर्जित पटेल ने 7 दिसम्बर 2016 को मौद्रिक समीक्षा पेश की। रिजर्व बैंक ने नीतिगत दर को 6.25% पर अपरिवर्तित रखा है। मौद्रिक नीति समिति (एमपीसी) की बैठक में सभी 6 सदस्यों ने दरों में यथास्थिति बनाये रखने के पक्ष में मत दिया। नोटबंदी के बाद यह RBI की यह पहली मौद्रिक समीक्षा है।
    • नोटबंदी से प्रभावित माहौल में केन्द्रीय बैंक ने हालांकि चालू वित्त वर्ष के लिये आर्थिक वृद्धि का अनुमान पहले के 7.6% से घटाकर 7.1% कर दिया। रिजर्व बैंक ने चालू वित्त वर्ष की चौथी तिमाही में महंगाई दर के 5% रहने का अनुमान लगाया है।
    • हालांकि, इसमें वृद्धि का जोखिम भी बताया गया है फिर भी यह अक्टूबर की मौद्रिक नीति समीक्षा से कम रहेगी। रिजर्व बैंक ने कहा है कि 7वें वेतन आयोग के तहत आवास भत्ते के पूरे प्रभाव का आकलन अभी तक नहीं हो पाया है, इसके क्रियान्वयन के बाद ही इसका पता चल पायेगा इसलिये महंगाई दर में इसके असर को शामिल नहीं किया गया है।

    पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय (एमओईएस) ने विंटर फॉग एक्सपेरीमेंट (WIFEX 2016-17) शुरू किया

    • पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय (एमओईएस) ने देश के उत्तरी भागों में कोहरे की विस्तारित अवधि की उपस्थिति का अध्ययन करने के लिए शीतकालीन कोहरा प्रयोग या विंटर फॉग एक्सपेरीमेंट (WIFEX 2016-17) शुरू किया है।
    • यह कोहरे के विभिन्न भौतिक और रासायनिक लक्षणों को गहनता से मापने का तरीका है तथा यह इंदिरा गांधी अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे (आईजीआईए), दिल्ली में आयोजित किया जाएगा।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published.


    *