भारत : सामान्य परिचय

Bookmark and Share

अवस्थिति

  • अक्षांशीय विस्तार – 6°4′ उत्तरी अक्षांश से 37°6′ उत्तरी अक्षांश तक
  • देशांतरीय विस्तार – 68°7′ पूर्वी देशांतर से 97°25′ पूर्वी देशांतर तक .
  • भारत का सबसे उत्तरी बिंदु – इंदिरा कॉल (जम्मू कश्मीर )
  • भारत का सबसे दक्षिणी बिंदु – इंदिरा प्वाइंट (अंडमान एवं निकोबार द्वीप समूह के ग्रेट निकोबार द्वीप का दक्षिण बिंदु )
  • भारत का सबसे पूर्वी बिंदु – वालांगू (अरुणाचल प्रदेश)
  • भारत का सबसे पश्चिमी बिंदु -सरक्रीक (गुजरात)

आकार

  • भारत की आकृति चतुष्कोणीय है. भारत का कुल क्षेत्रफल 3287263 वर्ग कि.मी. है .इसकी स्थलीय सीमा की लम्बाई 15200 km है तथा समुद्रतट की कुल लम्बाई 7516 km है.
  • पूर्व से पश्चिम इसकी लम्बाई 2933 km है जबकि उत्तर से दक्षिण 3214 km है.
  • भारत की प्रादेशिक जल सीमा तट रेखा से 12 समुद्री मील की दूरी तक है.
  • भारत का संलग्न क्षेत्रमंडल , तट रेखा से 24 समुद्री मील की दूरी तक है .
  • अनन्य आर्थिक जोन के अंतर्गत संलग्न क्षेत्र के आगे के वे समुद्री क्षेत्र आते है जो तट रेखा से 200 समुद्री मील की दूरी तक है .
  • कर्क रेखा भारत के मध्य भाग से 8 राज्यों से होकर गुजरती है. ये राज्य है – गुजरात ,राजस्थान ,मध्य प्रदेश ,छत्तीसगढ़ ,झारखण्ड ,पश्चिम बंगाल ,त्रिपुरा एवं मिजोरम .
  • भारत में 82°30′ पूर्वी देशांतर रेखा को देश का मानक याम्योत्तर मन गया है . यह मानक याम्योत्तर उत्तर प्रदेश के मिर्ज़ापुर से होकर गुजरती है.

कुछ महत्वपूर्ण तथ्य

  • पुडुचेरी एक ऐसा केंद्र शासित प्रदेश है जिसका फैलाव तीन राज्यों में है. इसके अंतर्गत पुडुचेरी (मुख्य),यनम ,कराईकल ,माहे चार क्षेत्र आते है.
  • पुडुचेरी (मुख्य)- तमिलनाडु की सीमा में अवस्थित
  • कराईकल – तमिलनाडु की सीमा में अवस्थित
  • यनम – आंध्र प्रदेश की सीमा में अवस्थित
  • माहे – केरल की सीमा में अवस्थित
  • अंडमान निकोबार द्वीप समूह के अंतर्गत आने वाले प्रमुख द्वीप है – उत्तरी अंडमान, मध्य अंडमान ,दक्षिणी अंडमान ,छोटा अंडमान ,कार निकोबार , छोटा निकोबार ,बड़ा निकोबार.
  • अंडमान निकोबार द्वीप समूह की राजधानी ‘पोर्ट ब्लेयर’, दक्षिणी अंडमान द्वीप पर स्थित है .
  • ‘इंदिरा प्वाइंट ‘ग्रेट निकोबार द्वीप का दक्षिणी बिंदु है .
  • बैरन द्वीप जो भारत का एकमात्र जाग्रत ज्वालामुखी है , मध्य अंडमान के पूर्वी भाग में अवस्थित है .
  • नारकोंडम द्वीप (उत्तरी अंडमान के उत्तर पूर्वी भाग में स्थित ) एक ज्वालामुखी द्वीप है .
  • 10° चैनल अंडमान को निकोबार से अलग करता है .
  • डंकन दर्रा दक्षिणी अंडमान और लघु अंडमान के बीच है .
  • कोको स्ट्रेट , कोको द्वीप समूह (म्यांमार) एवं उत्तरी अंडमान के मध्य है .
  • अंडमान निकोबार द्वीप समूह , मरकत द्वीप (एमराल्ड आइलैंड ) के नाम से भी जाना जाता है .
  • लक्षद्वीप प्रवाल भित्ति द्वारा निर्मित द्वीप है . मिनीकाय लक्षद्वीप का सबसे बड़ा द्वीप है .
  • 8° चैनल मिनीकाय एवं मालदीव के बीच है .
  • 9° चैनल मिनीकाय को मुख्य लक्षद्वीप समूह से अलग करता है.
  • ‘पाक स्ट्रेट ‘ तमिलनाडु एवं श्रीलंका के मध्य स्थित है .

भारत की सीमाएं

1 Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*