ग्रामीण आय का केवल 23% हिस्सा कृषि से प्राप्त : नाबार्ड

  • Home
  • ग्रामीण आय का केवल 23% हिस्सा कृषि से प्राप्त : नाबार्ड

ग्रामीण आय का केवल 23% हिस्सा कृषि से प्राप्त : नाबार्ड

प्रस्तावना
नाबार्ड बैंक के अखिल भारतीय वित्तीय समावेश सर्वेक्षण 2016-17 के अनुसार ग्रामीण क्षेत्रों में कुल आय का केवल 23% हिस्सा ही कृषि से प्राप्त होता है। कृषि परिवारों की आय का 43% हिस्सा खेती व पशुपालन से प्राप्त होता है।

सर्वेक्षण के मुख्य बिंदु
भारत में लगभग 21.17 करोड़ ग्रामीण परिवार है। ग्रामीण शब्द का दायरा काफी विस्तृत है, इसमें राजस्व गावों तथा 50,000 से कम जनसँख्या वाले अर्ध-शहरी केन्द्रों को शामिल किया गया है। 21.17 करोड़ परिवारों में से 10.07 करोड़ परिवार कृषि से सम्बंधित हैं। प्रत्येक परिवार में से कम से कम एक व्यक्ति कृषि कार्य में कार्यरत्त है जो वर्ष में औसतन 5000 रुपये के मूल्य के कृषि पदार्थों का उत्पादन करता है। शेष 11.10 करोड़ परिवार गैर-कृषि परिवार हैं।

देश में ग्रामीण परिवार की औसत शुद्ध वार्षिक आय लगभग 8,059 रूपए है। इसमें अधिकतर आय (3,504 रुपये) मजदूरी से प्राप्त होती है। जबकि सरकारी व निजी क्षेत्र में नौकरी से 1906, कृषि से 1832 रुपये औसतन प्राप्त होते हैं। इस सर्वेक्षण के अनुसार 21वीं शताब्दी में भारत के ग्रामीण क्षेत्रों में कृषि कम की जाती है।

COMMENTS (No Comments)

LEAVE A COMMENT

Search



Subscribe to Posts via Email

Enter your email address to subscribe to this blog and receive notifications of new posts by email.