समसामयिकी 5 सितम्बर

  • Home
  • समसामयिकी 5 सितम्बर

समसामयिकी 5 सितम्बर

  • admin
  • September 5, 2018

समसामयिकी 5 सितम्बर
भारत हिन्द महासागर में बहुपक्षीय सुनामी अभ्यास में लेगा हिस्सा

  • भारत 23 अन्य देशों के साथ हिन्द महासागर में बहुपक्षीय सुनामी मॉक अभ्यास IOWave18 में हिस्सा लेगा।
  • इस अभ्यास का आयोजन यूनेस्को के अंतरसरकारी महासागर आयोग (IOC) द्वारा किया जा रहा है।
  • IOWave18

  • इस अभ्यास का उद्देश्य सुनामी के लिए तैयारी करना, प्रत्येक राज्य में लोगों को सुरक्षित निकालने की प्रतिक्रिया का मूल्यांकन तथा क्षेत्र में समन्वय को बेहतर बनाना है।
  • इस अभ्यास में हिन्द महासागर के देशों में कृत्रिम सुनामी की स्थिति में राहत व बचाव कार्य किया जायेगा। इस अभ्यास का क्रियान्वयन राष्ट्रीय सुनामी चेतावनी केंद्र द्वारा किया जायेगा।
  • इस दौरान राष्ट्रीय सुनामी चेतावनी केंद्र तथा राष्ट्रीय व स्थानीय आपदा प्रबंधन कार्यालयों के बीच संपर्क लिंक का भी परीक्षण किया जायेगा।
  • हैदराबाद में स्थित इंडियन नेशनल सेंटर फॉर ओशन इनफार्मेशन सर्विसेज (INCOIS) इस अभ्यास में भाग लेने वाली नोडल एजेंसी होगी।
  • यह ओडिशा, अंडमान व निकोबार द्वीप, आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु, पुदुचेरी, महाराष्ट्र, पश्चिम बंगाल, गुजरात और गोवा के तटीय क्षेत्रों से 1,25,000 लोगों को सुरक्षित निकालने का कार्य करेगी।
  • यूक्रेन ने शुरू किया नाटो देशों के साथ संयुक्त सैन्य अभ्यास

  • यूक्रेन ने वार्षिक सैन्य अभ्यास ‘रैपिड ट्राईडेंट’ को लांच किया, इस अभ्यास में अमेरिका और नाटो सदस्य देश हिस्सा लेंगे। इस अभ्यास का आयोजन यूक्रेन के पश्चिमी क्षेत्र में स्तार्यिची नामक स्थान पर 2 से 15 सितम्बर, 2018 के दौरान किया जायेगा।
  • इस अभ्यास का उद्देश्य हाइब्रिड युद्ध की स्थिति में सशस्त्र आक्रामकता का सामना करना है। इसके एक सप्ताह बाद रूस, चीन और मंगोलिया के साथ शीत युद्ध के बाद का सबसे बड़ा सैन्य अभ्यास वोस्तोक-2018 का आयोजन करने जा रहा है।
  • रैपिड ट्राईडेंट युधाभ्यास 2018
    इस अभ्यास में बहुराष्ट्रीय व ब्रिगेड स्तरीय अभ्यास शामिल है। इसके अतिरिक्त इसमें बटालियन स्तरीय फील्ड ट्रेनिंग अभ्यास तथा प्लाटून स्तरीय परिस्थिति ट्रेनिंग अभ्यास शामिल है। इसमें यूनाइटेड किंगडम, जॉर्जिया, तुर्की, पोलैंड और जर्मनी समेत 14 देशों के लगभग 2200 सैनिक हिस्सा लेंगे। इस अभ्यास में सुरक्षित वाहन, एविएशन यूनिट तथा 350 सैन्य उपकरणों का उपयोग किया जायेगा। इसमें पहली बार यूक्रेनियाई बोर्ड गार्ड सर्विस व नेशनल गार्ड के जवान भी हिस्सा लेंगे।

    इंडो-कज़ाखस्तान संयुक्त सेना अभ्यास

  • इंडो-कज़ाखस्तान संयुक्त सेना अभ्यास ‘KAZIND’ भारतीय और कजाखस्तान सेना के बीच 10 से 23 सितंबर, 2018 के बीच कजाखस्तान में आयोजित किया जाएगा।
  • यह दोनों देशों के बीच तीसरा संयुक्त सैन्य अभ्यास है।
  • इस अभ्यास का उद्देश्य कजाकिस्तान सेना और भारतीय सेना के बीच अच्छे संबंधों को बनाना और कौशल का आदान-प्रदान करना है।
  • समसामयिकी 5 सितम्बर

    COMMENTS (1 Comment)

    Tinku kumar Sep 6, 2018

    आईएएस हिंदी का ये प्रयास काफी सराहनीय है।। धन्यवाद

    LEAVE A COMMENT

    Search



    Subscribe to Posts via Email

    Enter your email address to subscribe to this blog and receive notifications of new posts by email.