समसामयिकी अक्टूबर 8-14 ,राष्ट्रीय घटनाक्रम

  • Home
  • समसामयिकी अक्टूबर 8-14 ,राष्ट्रीय घटनाक्रम

समसामयिकी अक्टूबर 8-14 ,राष्ट्रीय घटनाक्रम

‘भारतीय महिला महोत्सव -2016’

  • जैविक उत्पादों से संबंधित ‘भारतीय महिला महोत्सव-2016’ नई दिल्ली स्थित दिल्ली हाट में 14 से 23 अक्टूबर तक चलेगा।
  • इसमें दिल्ली, राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र और 23 राज्यों / संघ शासित क्षेत्रों के उत्पादक शामिल हैं। इस महोत्सव में कई जैविक उत्पादों जैसे भोजन, कपड़ा तथा फर्नीचर सहित व्यक्तिगत इस्तेमाल के कई उत्पादों को भी शामिल किया गया है।
  • महिला एवं बाल विकास मंत्रालय द्वारा आयोजित एवं प्रायोजित, ‘भारतीय महिला महोत्सव-2016’ महिला उद्यमियों को लाभ पहुंचाने के लिए किया गया है| यह जैविक खाद्य पदार्थों और उत्पादों को बढ़ावा देने का एक सही माध्यम भी है।
  • ‘भारतीय महिला महोत्सव-2016’ का उद्देश्य जैविक वस्तुओं के स्वास्थ्य और पर्यावरण के लाभ पर प्रकाश डालना और अर्थव्यवस्था के विकास में शामिल महिलाओं को एक मंच प्रदान करना है और इसके साथ ही दूर-दराज के क्षेत्रों में जैविक उत्पादन में लगे लोगों मुख्यत महिलाओं को एक सही मंच भी प्रदान करना है।
  • हिमांश (Himansh)

  • हिमांश एक दूरस्थ और उच्च ऊंचाई रिसर्च स्टेशन है जो हाल ही में भारत के हिमालयी क्षेत्र में खोला गया है।
  • यह स्पीति, हिमाचल प्रदेश के एक दूरदराज के क्षेत्र में स्थित है।
  • यह जलवायु परिवर्तन की दिशा और ग्लेशियर प्रतिक्रियाओं ,में हिमालय के बेहतर अध्ययन करने के लिए भारत सरकार की पहल है ।
  • यह पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय के अन्तर्गत राष्ट्रीय अंटार्कटिक एवं समुद्री अनुसंधान केंद्र (एनसीएओआर) गोवा के द्वारा स्थापित किया गया है।
  • इस स्टेशन पर कई उपकरण है जो जलवायु परिवर्तन और ग्लेशियर के पिघलने की सटीक जानकारी देता है |
  • शोधकर्ताओं स्थलीय लेजर स्कैनर (TLS) और मानवरहित यान (यूएवी) का उपयोग, उपक्रम सर्वेक्षण की असाधारण परिशुद्धता के साथ ग्लेशियर गति और बर्फ कवर के लिए एक आधार के रूप में करेंगे ।
  • भारत की पहली अंतरराष्ट्रीय मध्यस्थता केंद्र

  • इंटरनेशनल आर्बिट्रेशन के लिए मुंबई केंद्र (MCIA), भारत की पहली अंतरराष्ट्रीय मध्यस्थता केंद्र है , जिसका उद्घाटन हाल ही में मुम्बई में किया गया।
  • यह मुंबई को अंतरराष्ट्रीय वित्तीय सेवा केंद्र (आईएफएससी) बनाने की एक बड़ी पहल है | और यह भारतीय व्यावसायिक घरानों के वाणिज्यिक विवादों को सुलझाने के लिए एक मंच उपलब्ध करने की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम है |
  • मुख्य तथ्य:

  • MCIA एक स्वतंत्र, गैर लाभकारी संगठन होगा जो राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय कानूनी विशेषज्ञों वाले एक परिषद के द्वारा संचालित होगा।
  • MCIA अलग कंपनियों या व्यक्ति के बीच विवादों को हल कर सकते हैं।
  • MCIA के द्वारा भारत में मध्यस्थता को पूरा करने के लिए 12 महीने का समय होगा ,मध्यस्थता करने की एक फीस होगी जो दोनों पार्टी को देनी होगी
  • भारत में सबसे पहला मेडीपार्क Medipark

  • चेन्नई में देश का पहला चिकित्सा उपकरणों के विनिर्माण मेडीपार्क स्थापित किया जाएगा।
  • यह उच्च अन्तः चिकित्सा उपकरण के स्थानीय उत्पादन को प्रोत्साहित करने के लिए के लिए सरकार के द्वारा एक महत्वपूर्ण कदम है|
  • एथनॉल

  • प्रधानमंत्री की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट की आर्थिक मामलों संबंधी समिति ने सरकारी तेल कंपनियों द्वारा पेट्रोल के साथ ब्लेंडिंग में इस्तेमाल किए जाने वाले एथनॉल की कीमत अगले शुगर ईयर के लिए घटाकर 39 रुपए प्रति लीटर कर दी है |
  • सरकारी तेल कंपनियां नयी कीमत पर ही चीनी मिलों से एथनॉल खरीदेंगी।
  • तेल कंपनियों को एथनॉल सप्लायर्स को लगने वाली ड्यूटी और ट्रांसपोर्टेशन चार्ज का भुगतान करना पड़ेगा |
  • तेल कंपनियों को पेट्रोल में 10 प्रतिशत तक एथनॉल मिलाना जरूरी होता है।
  • डाक नेटवर्क के माध्यम से दालों का वितरण

  • उचित मूल्य पर दालों की उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए सरकार ने डाक नेटवर्क के माध्यम से रियायती दालों को वितरित करने तथा बफर स्टॉक से अधिक मात्रा में चना जारी करने का फैसला किया है।
  • यह फैसला अंतर मंत्रालयी समिति में लिया गया। इस समिति ने आवश्यक वस्तुओं मुख्यत: दालों की उपलब्धता और कीमतों की समीक्षा की और सुझाव दिया कि राज्यों में सरकारी आउटलेट के अभाव में डाक नेटवर्क का उपयोग वितरण के लिए किया जाना चाहिए।
  • समिति ने सरकारी एजेंसियों द्वारा खरीफ दालों की खरीद के प्रबंधों की समीक्षा भी की और बताया कि अब तक 500 खरीद केंद्र खोले जा चुके हैं और जहां किसानों को चेक या बैंक हस्तांतरण प्रणाली के माध्यम से तुरंत भुगतान किया जा रहा है। सरकार ने चालू सत्र में 50,000 मीट्रिक टन खरीफ दालों की खरीद का लक्ष्य रखा है।
  • खुदरा महंगाई दर न्यूनतम स्तर पर

  • सब्जियों सहित खाद्य वस्तुओं के भाव में गिरावट आने से खुदरा महंगाई दर घटकर साल के न्यूनतम स्तर पर आ गयी है।
  • उपभोक्ता मूल्य सूचकांक पर आधारित महंगाई दर सितंबर में 4.31 प्रतिशत रही जबकि इस साल अगस्त में यह 5.05 प्रतिशत और पिछले वर्ष सितंबर में 4.41 प्रतिशत थी।
  • गांवों में महंगाई बढ़ने की रफ्तार अब भी शहरों से अधिक है |
  • भारतीय रिजर्व बैंक अपनी मौद्रिक नीति तय करते वक्त खुदरा महंगाई को ही संज्ञान में लेता है। आरबीआइ ने खुदरा महंगाई को चार फीसदी (दो प्रतिशत ऊपर या नीचे) पर नियंत्रित करने का लक्ष्य रखा है। ऐसे में खुदरा महंगाई आरबीआइ के लक्ष्य के अनुरूप बने रहने से सस्ते कर्ज का रास्ता साफ रहेगा।
  • केंद्रीय सांख्यिकीय कार्यालय (सीएसओ) के अनुसार सितंबर में खुदरा महंगाई दर में गिरावट की प्रमुख वजह सब्जियों के दाम में कमी आना है। सितंबर में सब्जियों की मुद्रास्फीति -7.21 प्रतिशत रही। हालांकि सितंबर मंख चीनी और कन्फेक्शनरी की महंगाई दर 25.77 प्रतिशत और दालों की 14.33 प्रतिशत रही। इसी तरह अंडों की महंगाई 9.94 प्रतिशत और फलों की 6.07 प्रतिशत बढ़ी।
  • गंगा बैरेज परियोजना

  • बांग्लादेश चार अरब डॉलर वाली प्रस्तावित गंगा बैरेज परियोजना में भारत को ‘पक्ष’ बनाना चाहता है | गंगा बांग्लादेश में भारत से होकर बहती है, और बांग्लादेश इसमें भारत को शामिल करना चाहता हैं।’
  • भारत के जल संसाधन मंत्रालय की एक टीम बैरेज परियोजना पर जल्द ही चर्चा के लिए ढाका का दौरा करेगी। गंगा बैरेज राजबारही से चपईनबावगंज जिले तक 165 किलोमीटर लंबा जलाशय होगा और इसकी गहराई 12.5 मीटर होगी।
  • ग्लोबल हंगर इंडेक्स(GHI)

  • 118 देशों के ग्लोेबल हंगर इंडेक्स (GHI) में भारत 97वीं पायदान पर आंका गया है।
  • ग्लोबल हंगर इंडेक्स हर साल चार पैमानों के आधार पर आंका जाता है- कुपोषित जनसंख्यार का हिस्सा, 5 वर्ष की आयु तक के व्यर्थ और अवरुद्ध बच्चे, तथा इसी आयु-वर्ग में शिशु मृत्यु दर।
  • इस साल पहली बार बाल भुखमरी के दो पैमानों- वेस्टिंग और स्टंमटिंग को लिया गया ताकि असल तस्वीर उभर सके। वेस्टिंग का मतलब बच्चे की लंबाई की तुलना में कम वजन होना है, जिससे एक्यूपट कुपोषण का पता चलता है। जबकि स्टंमटिंग का मतलब उम्र के हिसाब से लंबाई में कमी को दर्शाता है, जिससे क्रॉनिक कुपोषण का पता चलता है।
  • ग्लोबबल हंगर इंडेक्स की गणना इंटरनेशनल फूड पॉलिसी रिसर्च इंस्टीट्यूट (IFPRI) हर साल करता है।
  • 2016 के भारत का GHI इसलिए इतना गिरा हुआ है क्योंकि देश की लगभग 15 फीसदी आबाद कुपोषित है- पर्याप्त भोजन के सेवन में कमी, मात्रा और गुणवत्ता, दोनों में। 5 वर्ष से कम आयु के वेस्टिंग बच्चेे करीब 15 प्रतिशत हैं जबकि स्टंमटिंग बच्चों का प्रतिशत आश्चिर्यजनक रूप से 39 प्रतिशत तक पहुंच गया है। इससे पता चलता है कि यह देश भर में संतुलित आहार की कमी की वजह से फैला हुआ है। 5 वर्ष से कम उम्र में शिशु मृत्यु दर भारत में 4.8 प्रतिशत है, जो कि अपर्याप्त पोषण और अस्वास्थ्यकर वातावरण का घातक तालमेल दिखाता है।
  • राष्ट्रीय डाक सप्ताह

  • राष्ट्रीय डाक सप्ताह नौ अक्तूबर से 15 अक्तूबर तक मनाया जा रहा है। इस दौरान कई कार्यक्रम हो रहे हैं। डाकघरों में उपलब्ध विभिन्न उत्पाद और सेवाओं का प्रचार-प्रसार करने के लिए इसका आयोजन किया गया है।
  • आयोजन में बच्चों में फिलाटेली और माई स्टैंप के प्रति विशेष रुचि पैदा करने पर विशेष ध्यान दिया गया है। फिलाटेलिक संग्रह खाता जीपीओ या प्रधान डाकघर में खुलेगा। कोई भी व्यक्ति 300 रुपए में अपने या अपने प्रियजनों की तस्वीर के साथ माई स्टांप डाक टिकट निकलवा सकता है।
  • राष्ट्रीय मानसिक स्वास्थ्य कार्यक्रम

  • विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुमानों के अनुसार चार में से एक व्यक्ति अपने जीवन काल में कम से कम एक बार मानसिक बीमारी से प्रभावित होता हैं। 2005 से उपलब्ध डाटा के अनुसार भारत में 6 से 7 प्रतिशत आबादी किसी न किसी तरह की मानसिक बीमारी से पीड़ित है।
  • मानसिक बीमारियाँ अस्वस्थता के प्रमुख कारण के रूप में उभर रही हैं। इन बीमारियों में अवसाद, दो धुव्री मनोदशा विकार, दुष्चिंता विकार, व्यक्तित्व विकार, मतिभ्रमता, अन्य उपयोग विकार शामिल हैं।
  • भारत सरकार राष्ट्रीय मानसिक स्वास्थ्य कार्यक्रम के अतंर्गत निवेश कर रही है ताकि समाज की इस बड़ी खाई को पाटी जा सके। मानसिक स्वास्थ्य के रोकथाम, इलाज और रोगी के पुनर्वास से मानसिक बीमारी की समस्या का हल ढूंढा जाना चाहिए क्यूंकि यह स्वास्थ्य उद्देश्य को हासिल करने के लिए आवश्यक है।
  • एएसआई संरक्षित क्षेत्र पॉलिथीन मुक्तक क्षेत्र घोषित

  • एएसआई सभी ऐतिहासिक स्मारकों और पुरातात्विक जगहों के 300 मीटर तक के दायरे को पॉलिथीन मुक्त क्षेत्र बनाने की प्रक्रिया में है।
  • COMMENTS (No Comments)

    LEAVE A COMMENT

    Notice: Undefined variable: req in /var/www/html/iashindi/wp-content/themes/iashindi/single.php on line 94
    />
    Notice: Undefined variable: req in /var/www/html/iashindi/wp-content/themes/iashindi/single.php on line 99
    />

    Search