मुख्यमंत्री विकलांग सशक्तिकरण योजना & मुख्यमंत्री श्रम शक्ति योजना

  • Home
  • मुख्यमंत्री विकलांग सशक्तिकरण योजना & मुख्यमंत्री श्रम शक्ति योजना

मुख्यमंत्री विकलांग सशक्तिकरण योजना & मुख्यमंत्री श्रम शक्ति योजना




मुख्यमंत्री विकलांग सशक्तिकरण योजना

  • बिहार के मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार ने ‘मुख्यमंत्री विकलांग सशक्तिकरण योजना’ नामक एक नई योजना शुरू की है।
  • यह योजना राज्य के विकलांग लोगों को शिक्षा, रोजगार और वित्तीय सहायता प्रदान करने के लिए शुरू की गयी है।
  • इस योजना के तहत सरकार ने राज्य के विकलांग लोगों के लिए विभिन्न लाभ और सुविधाएं प्रदान करेगी।

मुख्यमंत्री विकलांग सशक्तिकरण योजना की सुविधाएँ

  • मुख्यमंत्री विकलांग सशक्तिकरण योजना के तहत बिहार राज्य सरकार राज्य के विकलांग लोगों के लिए शिक्षा और रोजगार के अवसर प्रदान करेगी।
  • इसके अलावा विकलांग लोगों को उनके दैनिक खर्च के लिए वित्तीय लाभ प्रदान किया गया।
  • राज्य के विकलांग लोगों को छात्रवृत्ति प्रदान की जाएगी।
  • इस योजना के तहत सरकार विकलांग लोगों को शिक्षा प्रदान करने के साथ योजना के तहत राज्य के विकलांग लोगों को विकलांग प्रमाण पत्र प्रदान करेगा विकलांग व्यक्तियों के लिए स्कूलों का निर्माण होगा।
  • इस प्रमाण पत्र के माध्यम से विकलांग लोगों को नि: शुल्क बस सेवा, मुफ्त ट्रेन सेवा, आदि के रूप में विभिन्न लाभ और सेवा मिल पाएंगी ।
  • सरकार ने भी मुख्यमंत्री विकलांग सशक्तिकरण योजना के तहत बिहार के विकलांग लोगों को एड्स विकलांगता से मुक्ति प्रदान करेगा।
  • राज्य के विकलांग लोगों को भी विभिन्न बैंकों से ऋण की सुविधा मिल जाएगी।

मुख्यमंत्री श्रम शक्ति योजना बिहार

  • बिहार राज्य सरकार ने प्रशिक्षण प्रदान करने और राज्य के बेरोजगार लोगों के लिए कम ब्याज दरों पर ऋण के रूप में वित्तीय सहायता प्रदान करने के लिए ‘मुख्यमंत्री श्रम शक्ति योजना’ नामक एक महत्वाकांक्षी योजना शुरू की है।
  • मुख्यमंत्री श्रम शक्ति योजना बिहार में कई लोकप्रिय अल्पसंख्यक कल्याण योजनाओं के तहत मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की सरकार के नेतृत्व में शुरू की गयी एक योजना है।
  • इस योजना के तहत राज्य सरकार अल्पसंख्यक बेरोजगारों के लिए जो 18 से 45 वर्ष के बीच की आयु के हैं एवं राज्य के श्रमिकों के लिए उनके काम से संबंधित प्रशिक्षण प्रदान करेगा।
  • उन्होंने यह योजना 50,000 रुपये तक कम ब्याज दरों पर ऋण के रूप में वित्तीय सहायता प्रदान करने के लिए शुरू की है। इस ऋण को अपने स्व-रोजगार के लिए लोगों को प्रदान किया जाएगा।

उद्देश्य

    मुख्यमंत्री श्रम शक्ति योजना का उद्देश्य स्वरोजगार में या रोजगार कहीं भी इन कौशल का उपयोग कर अल्पसंख्यक समुदाय के मुसलमानों से संबंधित लोगों के लिए तकनीकी प्रशिक्षण प्रदान करना है।

मुख्यमंत्री श्रम शक्ति योजना की सुविधाएँ

  • मुख्यमंत्री श्रमशक्ति योजना के तहत 1500-2000 प्रति माह प्रति व्यक्ति अल्पसंख्यक / मुस्लिम कारीगरों और साक्षर श्रम को निखारने और अपने कौशल का उन्नयन करने के लिए प्रदान किया जाएगा ।
  • प्रशिक्षण खत्म होने के बाद वे बिहार राज्य अल्पसंख्यक वित्त निगम द्वारा 50,000 रुपये का ऋण उनके स्व-रोजगार के लिए प्राप्त कर सकते हैं।
  • बिहार राज्य अल्पसंख्यक वित्त निगम द्वारा इन 6 महीनों में अल्पसंख्यक समुदाय / मुसलमान मजदूरों के लिए तकनीकी प्रशिक्षण का आयोजन किया गया है।
  • मुस्लिम महिलाएं जिनके पति या रिश्तेदारों ने उन्हें छोड़ दिया है बिहार सरकार की ओर से 10,000 रुपये पाने की हकदार हैं।
  • इस योजना के बारे में अधिक जानकारी के लिए पात्र और जरूरतमंद आवेदक योजना का लाभ पाने के लिए उनके जिले के अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ से संपर्क कर सकते हैं।

COMMENTS (No Comments)

LEAVE A COMMENT

Search



Subscribe to Posts via Email

Enter your email address to subscribe to this blog and receive notifications of new posts by email.